Mon. Jun 24th, 2024

News India19

Latest Online Breaking News

मण्डलायुक्त श्रीमती रितु माहेश्वरी जी की अध्यक्षता में कर करेत्तर एवं राजस्व वादों के निस्तारण की प्रगति की मण्डलीय समीक्षा बैठक हुई संपन्न

 

  • मण्डलायुक्त श्रीमती रितु माहेश्वरी जी की अध्यक्षता में कर करेत्तर एवं राजस्व वादों के निस्तारण की प्रगति की मण्डलीय समीक्षा बैठक हुई संपन्न
  • आगरा. 20/05/2024. आज सोमवार को मण्डलायुक्त श्रीमती रितु माहेश्वरी जी की अध्यक्षता में कर करेत्तर के कार्यों एवं राजस्व वादों के निस्तारण की प्रगति की मण्डलीय समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक में सर्वप्रथम वाणिज्य कर की समीक्षा में आगरा मण्डल के चारों जनपदों में आगरा की स्थिति सबसे खराब रही। निर्देश दिए कि खानापूर्ति बंद की जाए। पंजीकरण पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान दिया जाए और हर हाल में निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति हेतु प्रयास किए जाएं। स्टांप व रजिस्ट्रेशन में मैनपुरी-आगरा की खराब की स्थिति रही। वर्तमान वित्तीय वर्ष के शुरूआती दौर में ही माहवार निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष खराब प्रगति पर नाराजगी व्यक्त की। आबकारी में भी प्रयास में तेजी लाने को कहा। परिवहन में अवगत कराया कि लक्ष्य के सापेक्ष विगत वित्तीय वर्ष 2023-24 में लगभग 91.2 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्ति हुई। प्रदेश में चौथी रैंक है। शत प्रतिषत वार्षिक लक्ष्य प्राप्ति के निर्देश दिए गये। खनिज में बताया गया कि इस मद में विगत वर्ष का लगभग 91 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त किया गया है। चारों जनपदों में प्रवर्तन में कड़ाई से कार्यवाही करने के निर्देश दिए। विधिक माप विज्ञान की समीक्षा की गयी। आगरा में सभी एम्पोरियम और ताजमहल के आसपास दुकानों व शोरूमों में शत प्रतिशत बारकोडिंग लगाए जाने के निर्देश दिए गये। विविध देय में चारों जनपदों की समीक्षा करते हुए निर्धारित लक्ष्य की शत प्रतिशत प्राप्ति हेतु निर्देश दिए गये।
  • जनपदवार कर करेत्तर मद में प्राप्त वसूली प्रमाण पत्र एवं वसूल की गयी धनराशि के विवरण की समीक्षा की गयी। फिरोजाबाद की स्थिति सबसे ज्यादा खराब रही। मथुरा और मैनपुरी में भी कोई खास प्रगति न दिखने पर मण्डलायुक्त महोदया ने निर्देश दिए कि लक्ष्य प्राप्ति की दिशा में काफी प्रयास करने की जरूरत है और पोर्टल पर अंकित मांग के अनुसार ही वसूली की जाए। प्रति अमीन औसत वसूली में वर्तमान वित्तीय वर्ष 2024-25 में आगरा को छोड़कर नियमित अमीनों की अपेक्षा सीजनल अमीनों द्वारा कम वसूली की गयी। वहीं ऐसे अमीनों की संख्या भी ज्यादा थी जिन्होंने एक लाख से भी कम वसूली की। निर्देश दिए कि आगामी माह से प्रति अमीन वसूली की समीक्षा की जाए। कम प्राप्ति पर नियमित अमीनों को नोटिस दिए जाएं अथवा संबंधित की जिम्मेदारी दी जाए, वहीं वसूली न करने वाले सीजनल अमीनों को हटाया जाए।
  • राजस्व वादों की निस्तारण की समीक्षा में अवगत कराया गया कि जनपद आगरा में सबसे ज्यादा 8160, मैनपुरी 7907, मथुरा 3509 और फिरोजाबाद में 2682 वाद लंबित हैं। मैनपुरी में 5 वर्ष से अधिक लंबित वादों की संख्या एवं खराब रैकिंग पर मंडलायुक्त महोदया द्वारा नाराजगी जताई गयी। धारा 24 में आगरा, धारा 33 में मैनपुरी जबकि धारा 34 में मथुरा की स्थिति निस्तारित वादों की स्थिति खराब रही। चारों जनपदों के अपर जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि एक अभियान चलाकर अगले 10 से 15 दिनों में 5 साल से अधिक लंबित वादों का निस्तारण करते हुए समस्त लंबित वादों के निस्तारण में तेजी लाई जाए। धारा 80 एवं धारा 116 में मैनपुरी की स्थिति व रैकिंग संतोष व्यक्त किया। ई डिस्ट्रिक्ट पोर्टल एवं आईजीआरएस संदर्भों की समीक्षा की। फिरोजाबाद और मथुरा में सबसे ज्यादा लंबित शिकायतें हैं। चारों जनपदों में आईजीआरएस पर प्राप्त होने वाली शिकायतों को गंभीरता से लेने व गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराने के निर्देश दिए गये।
  • बैठक में अपर आयुक्त प्रशासन श्री राजेश कुमार जी, जिलाधिकारी श्री भानुचन्द्र गोस्वामी जी, अपर जिलाधिकारी (वित्त/राजस्व) आगरा से श्रीमती शुभांगी शुक्ला जी, मथुरा श्री योगानंद पांडेय जी, फिरोजाबाद से श्री अभिषेक सिंह जी, मैनपुरी से श्री रामजी मिश्रा जी सहित अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

विज्ञापन 3

LIVE FM

You may have missed