Fri. Jul 12th, 2024

News India19

Latest Online Breaking News

टोपी वालों को माफी और बेल भगवा धारी को जुर्माना और जेल  ताज महल में नमाज पढ़ने पर हिंदू बादियो में गहरा रोश पुरातत्व अधिकारी को दिया ज्ञापन कार्रवाई न होने पर करेंगे तेजोमहालय में आरती

टोपी वालों को माफी और बेल भगवा धारी को जुर्माना और जेल

ताज महल में नमाज पढ़ने पर हिंदू बादियो में गहरा रोश पुरातत्व अधिकारी को दिया ज्ञापन कार्रवाई न होने पर करेंगे तेजोमहालय में आरती

सोशल मीडिया के माध्यम से जानकारी होने पर की तेजो महालय ताजमहल के अंदर पश्चिम बंगाल से आए हुए मुस्लिम व्यक्ति ने नमाज अदा की गई जिसमें सीआईएसफ का एक जवान खड़ा होकर नमाज़ करते हुए व्यक्ति को देख रहा है उसने रोकने की कोशिश नहीं करी उससे ऐसा लगता है कि कहीं ना कहीं सीआईएसएफ के सिपाही की भी जानकारी थी कि यह व्यक्ति नमाज अदा कर रहा है लेकिन उसने उसको नहीं रोका इसको लेकर अखिल भारत हिंदू महासभा के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने आज दोपहर पुरातत्व विभाग के कार्यालय पर जाकर जमकर नारेबाजी कर पुरातत्व अधिकारी को ज्ञापन शॉप कर उक्त व्यक्ति एवं सीआईएसएफ के सिपाही के खिलाफ कार्यवाही की मांग की गई

अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय जाट ने कहा कि सोशल मीडिया पर नमाज पढ़ने का वीडियो वायरल हुआ हुआ जिसमें सीआईएफ का जवान ताजमहल के अंदर नमाज पढ़ने वाले व्यक्ति के सामने खड़ा दिखाई दे रहा है उसने उसे व्यक्ति को नमाज पढ़ने से नहीं रोका बाद में समाचार पत्रों के माध्यम से पता चला कि उस व्यक्ति को लिखित माफी लिखवा कर छोड़ दिया गया तो पुरातत्व विभाग ने और प्रशासन ने लगता है नई परंपरा प्रारंभ कर दी गई है माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेश अनुसार स्थानीय मुस्लिम नमाजियों को ही शुक्रवार के दिन ताजमहल में नमाज अदा करने की परमिशन है उसके अलावा किसी भी दिन नमाज अदा नहीं कर सकते किंतु माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की धज्जियां उड़कर मात्र लिखित माफी नामा लिखवा कर उसको छोड़ दिया गया जबकि हिंदूवादी अगर तेजो महालय के आसपास भी आ जाते हैं तो उनके खिलाफ मुकदमा लिख दिया जाता है हम एएसआई अधिकारियों से मांग करते हैं कि अगर लिखित माफी मांग कर सब कुछ सही हो जाता है तो हिंदू नेताओं पर लिखे हुए मुकदमों को भी लिखित माफी मांग कर समाप्त कर दिए जाएं जिसको लेकर जल्दी ही हिंदू नेताओं पर तेजो महल से संबंधित मुकदमें लिखें हुए हैं वह सभी नेता एफिडेविट लिखित माफी देने को भी तैयार रहेंगे उनके मुकदमे भी समाप्त किए जाएं

अखिल भारत हिंदू महासभा की मंडल अध्यक्ष महिला मोर्चा मीना दिवाकर ने कहा की टोपी बालों को माफी और बैल और भगवा धारी को जुर्माना और जेल जब माननीय सुप्रीम कोर्ट का आदेश है कि केवल शुक्रवार को नमाज अदा हो सकती है तेजो महालय ताजमहल के अंदर तो बाकी 6 दिन के लिए टोपी को ताजमहल प्रवेश के वक्त प्रतिबंध कर दिया जाए देश के विभिन्न हिस्सों से आए हुए मुस्लिम नमाजियों को नहीं पता रहता की ताजमहल के अंदर शुक्रवार के अलावा बाकी के 6 दिन नमाज प्रतिबंध रहती है जिस तरह भगवा पहने हुए साधु संत देश के विभिन्न हिस्सों से आए हुए पर्यटकों को मूर्ति ले जाने से भगवा पहने हुए व्यक्ति को रोक दिया जाता है ठीक उसी तरह सर पर टोपी वाले व्यक्तियों को भी रोक दिया जाए इससे सब की समस्या समाप्त हो जाएगी अन्यथा हमको भी ताजमहल के अंदर शिव चालीसा पढ़ने की इजाजत दी जाए और सिर्फ चालीसा पढ़ने के बाद हमसे भी माफी लिखित रूप से लेकर हमारे खिलाफ भी कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जाए आज के कार्यक्रम में प्रमुख रूप से मीणा दिवाकर विपिन राठौर शंकर श्रीवास्तव विशाल कुमार सूरज ठाकुर राहुल सिंह जयवीर शर्मा मनीष कुमार लखन चौधरी सुनील भाई लव कुमार आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे

विज्ञापन 3

LIVE FM