Fri. Jul 12th, 2024

News India19

Latest Online Breaking News

बरसात के दिनों के चलते 15 जून से हट जाएगा पिनाहट-उसेथ घाट चंबल नदी पर बना पेंटून पुल बरसात के 4 माह तक पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा संचालित होगा स्टीमर

बरसात के दिनों के चलते 15 जून से हट जाएगा पिनाहट-उसेथ घाट चंबल नदी पर बना पेंटून पुल

बरसात के 4 माह तक पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा संचालित होगा स्टीमर

पिनाहट।चंबल नदी के पिनाहट उसेथ घाट पर बने पीपों के पेंटून पुल पर 15 जून से यात्री वाहनों का आवागमन पूरी तरह से बंद हो जाएगा। बरसात के दिनों में पीडब्ल्यूडी विभाग गरा द्वारा 4 महीनों के लिए पेंटून पुल को हटाकर चंबल नदी किनारे रख दिया जाएगा। चंबल नदी में बरसात के दिनों में बाढ़ के कारण इस पल को हटा दिया जाता है जिसकी समय सीमा 15 जून को खत्म हो रही है। उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश दोनों राज्यों के लोगों के आवागमन के लिए पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा पैंटून पुल का निर्माण 15 अक्टूबर से 15 जून तक होता है। बरसात के दिनों में यात्रियों की सुविधा हेतु विभाग द्वारा चंबल नदी में स्टीमर से यात्रियों को निशुल्क पार कराया जाता है। जानकारी रहे कि इलाके को मध्यप्रदेश मुरैना एवं उत्तर प्रदेश के आगरा जिला को सीधा जोड़ने के लिए चंबल नदी के पिनाहट उसेथ घाट पर करीब तीन दशक पहले पीपा पुल की सुविधा प्रदान की गई थी। इस पुल का लाभ दोनों राज्यों के दर्जनों गांव के यात्रियों को वर्ष में आठ माह तक सुविधा मिलती है। बीते बरसों चंबल नदी में आई भयंकर बाढ़ के चलते जल स्तर अधिक होने से पुल निर्माण में पीडब्ल्यूडी विभाग को ज्यादा पीपे लगाने पड़े थे। इस वर्ष चंबल नदी का पीपा का पुल निर्धारित समय से 75 दिन बाद 25 दिसंबर को शुरू हो सका था। पुल की समय सीमा समाप्त होने पर अब 15 जून को लोक निर्माण विभाग आगरा द्वारा पुल से आवागमन बंद कर हटाने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। वहीं पुल हटने के बाद चंबल पट्टी के दर्जनों गांव के लोगों को दोपहिया और चार पहिया वाहनों द्वारा धौलपुर और भिंड होकर 150 किलोमीटर तक की दूरी का अतिरिक्त सफर करके आवागमन करना होगा। जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है। एक्सईएन पीडब्लूडी पी.के शरद ने बताया 15 जून को प्लाटून पूल को हटा दिया जाएगा बरसात की वजह से जल स्तर बढ़ने की वजह से .चार महीने पैदल यात्रिओ को स्टीमर द्वारा पार कराया जाएगा .

विज्ञापन 3

LIVE FM