Tue. Jul 16th, 2024

News India19

Latest Online Breaking News

पुलिस आयुक्त, कमिश्नरेट आगरा के निर्देशन में सहायक पुलिस आयुक्त, एत्मादपुर/महिला अपराध द्वारा कमिश्नरेट आगरा की महिला मुख्य आरक्षियों एवं आरक्षियों को P.O.S.H. (Prevention of Sexual Harassment) Act एवं विशाखा गाइडलाइंस के सम्बन्ध में महत्वपूर्ण जानकारी देते हुए किया गया जागरूक

  • महिला सशक्तिकरण एवं सुरक्षा
  • पुलिस आयुक्त, कमिश्नरेट आगरा के निर्देशन में सहायक पुलिस आयुक्त, एत्मादपुर/महिला अपराध द्वारा कमिश्नरेट आगरा की महिला मुख्य आरक्षियों एवं आरक्षियों को P.O.S.H. (Prevention of Sexual Harassment) Act एवं विशाखा गाइडलाइंस के सम्बन्ध में महत्वपूर्ण जानकारी देते हुए किया गया जागरूक….
  • आज दिनांक 25.06.2024 को पुलिस आयुक्त, कमिश्नरेट आगरा के निर्देशन में सहायक पुलिस आयुक्त, एत्मादपुर/महिला अपराध द्वारा पुलिस लाइंस सभागार में गोष्ठी का आयोजन किया गया, जिसमें श्रीमती जया चतुर्वेदी, जे०जे० बोर्ड, श्रीमती रितु, जिला प्रोवेशन अधिकारी, श्री रवीन्द्र यादव, अभियोजन अधिकारी भी मौजूद रहे। गोष्ठी में कमिश्नरेट आगरा में तैनात महिला मुख्य आरक्षियों एवं आरक्षियों द्वारा भाग लिया गया। गोष्ठी का मुख्य उद्देश्य कार्यस्थल पर महिलाओं के लिए सुरक्षित और सशक्त कार्य वातावरण प्रदान करना, महिलाओं के विरूद्ध यौन उत्पीड़न को रोकना और संबंधित मामलों का समाधान करना था।
  • गोष्ठी में P.O.S.H. (Prevention of Sexual Harassment), Act 2013 कानून के तहत महिलाओं के विरुद्ध होने वाले यौन उत्पीड़न एवं कार्यस्थल पर महिलाओं के साथ होने वाले दुर्व्यवहार को रोकने के उपाय और प्रक्रियाएँ निर्धारित की गई हैं एवं विशाखा गाइडलाइंस कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न की रोकथाम के लिए सर्वोच्च न्यायालय द्वारा जारी किए गए निर्देश एवं इन गाइडलाइंस के तहत महिलाओं के अधिकारों की सुरक्षा और उनकी गरिमा बनाए रखने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाने के सम्बन्ध में महत्वपूर्ण एवं विस्तारपूर्वक जानकारी दी गयी। सहायक पुलिस आयुक्त
  • द्वारा बताया गया कि किस प्रकार यह कानून और दिशा-निर्देश कार्यस्थल पर महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने में सहायक हैं।
  • गोष्ठी में महिला मुख्य आरक्षियों एवं आरक्षियों को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया गया एवं कार्यस्थल पर सुरक्षित माहौल सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक प्रक्रियाओं और उपायों पर चर्चा की गई। पुलिस विभाग में कार्यरत महिलाओं को एक सुरक्षित और सशक्त कार्य वातावरण मिले, जिससे वे अपने कर्तव्यों का निर्वहन बिना किसी भय के कर सकें।
  • गोष्ठी के अंत में सभी महिला मुख्य आरक्षियों एवं आरक्षियों ने अपने अनुभव साझा किए और इस तरह की पहल को सराहा। कार्यस्थल पर महिलाओं की सुरक्षा और सशक्तिकरण सुनिश्चितता हेतु भविष्य में भी इस प्रकार की गोष्ठियों का आयोजन किया जायेगा 

विज्ञापन 3

LIVE FM