Wed. Dec 7th, 2022

News India19

Latest Online Breaking News

एटा- थाना कोतवाली देहात पुलिस को मिली सफलता, करीब दो माह पूर्व जीटी रोड हाईवे छितौनी पुल पर महिला की हत्या कर शव फकने की घटना का सफल अनावरण, 02 अभियुक्त गिरफ्तार, अवैध संबंधों के चलते की गई थी महिला की हत्या।

*प्रेसनोट*

*सराहनीय कार्य जनपद एटा।*

 

*एटा- थाना कोतवाली देहात पुलिस को मिली सफलता, करीब दो माह पूर्व जीटी रोड हाईवे छितौनी पुल पर महिला की हत्या कर शव फकने की घटना का सफल अनावरण, 02 अभियुक्त गिरफ्तार, अवैध संबंधों के चलते की गई थी महिला की हत्या।*

 

*घटना-* दिनांक- 28.01.2022 को थाना कोतवाली देहात पर सूचना मिली कि छितौनी वाईपास पुल के ऊपर एक अज्ञात अधेड़ महिला की हत्या कर शव को डाल दिया गया है, इस सूचना पर स्थानीय पुलिस द्वारा तत्काल मौके पर पहुँच शव का पोस्टमार्टम कराते हुए शव की शिनाख्त हेतु प्रचार प्रसार किया गया था. जिससे मृतका की पहचान पूजा उर्फ मीना उर्फ बबीता उर्फ सुमन पुत्री साधूसिंह निवासी ग्राम निनावली थाना ऐका जिला फिरोजाबाद के रूप में हुई। इस संबंध में ग्राम प्रधान छितौनी द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर थाना कोतवाली देहात पर मुअसं – 34 / 2022 धारा 302 भादंवि बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया।

 

*अनावरण तथा गिरफ्तारी-* दिनांक 02-04-2022 को थाना कोतवाली देहात पुलिस तथा जनपदीय स्वाट टीम द्वारा उपरोक्त घटना में वांछित चल रहे दो अभियुक्त जयपाल पुत्र नेत्रपाल सिंह निवासी नगरिया लुधइया थाना कायमगंज जिला फर्रुखाबाद व अवनेश कुमार पुत्र जगन्नाथ सिंह निवासी ग्राम रूस्तमपुर थाना कुरावली जिला मैनपुरी को मुखबिर की सूचना पर हनुमान ट्रांसपोर्ट के पास रेलवे रोड से समय करीब 17.00 बजे गिरफ्तार किया गया है तथा प्रकाश में आए अभियुक्त सत्यवीर की गिरफ्तारी हेतु सार्थक प्रयास किए जा रहे हैं।

 

*मुख्य बिंदु-*

1- मार्च 2021 में अभियुक्त जयपाल के फोन पर अचानक पूजा नाम की लडकी का फोन आया था। जिससे फोन पर पर बातचीत होने लगी ते उसने अपना नाम पूजा निवासी सुनहरी नगर शिकोहाबाद रोड एटा पर रहना बताया।

2- मार्च 2021 में ही जयपाल उपरोक्त ट्रक लेकर एटा आया और जवाहरलाल नेहरु डिग्री कॉलेज के सामने पूजा से मुलाकत की बातचीत करने पर पूजा ने बताया कि उसका कोई नहीं है और वह अस्पताल में नौकरी करती है तथा जयपाल से उसकी शादी होने के बारे में पूछा तो जयपाल ने शादी न होना बताया।

3- इसके बाद पूजा और जयपाल ने एक दूसरे को पति पत्नी के रूप में स्वीकार कर लिया। जिसके बाद पूजा दो माह तक जयपाल के गांव नगरिया लुधइया में उसके घर पर रही। 4- जयपाल ट्रक पर नौकरी करता रहा और घर भी आता जाता रहा इसी बीच पूजा और लोगों से फोन पर बातचीत करती थी जब जयपाल को उस पर शक हुआ तो जयपाल ने उसको कई बार मना किया किन्तु वह नहीं मानी।

5- जयपाल बिहार से भुसी का ट्रक लोड करके चला तो जयपाल के पास पूजा का फोन आया कि उसको एटा में किराये के मकान का किराया देना है जिसके लिए उसे 5000 रूपये की जरूरत है।

6- जयपाल दिनांक 27-01-2022 को समय करीब 4:00 बजे अपने सहायक परिचालक सत्यवीर के साथ कुरावली के पास पहुंचा, क्योंकि उससे पहले अवनेश यादव उपरोक्त का फोन आया था कि उसके पास गाडी नही है उसको गाडी दिलवा दे तो जयपाल ने बताया कि वह दिनांक 27.01. 2022 को कुरावली पहुंच जाएगा और वहां से साथ में पंजाब जाकर गाडी दिलवा देगा। अवनेश भी कुरावली से जयपाल के साथ ट्रक में बैठ गया और रास्ते में उन्होंने कुछ शराब के पऊआ खरीदे और तीनों ने शराब पी और करीब 4-5 बजे उन्होंने सैंथरी (मलावन) से पहले बने कॉलेज के पास चाय की दुकान पर गाड़ी रोक कर पूजा को वहां बुलाया और उन्होंने फिर से शराब पी।

8- समय करीब 6.00 बजे पूजा टेम्पो से वहाँ आ गयी और वह खाना भी बनाकर लायी थी जो तीनों लोगो ने ट्रक की केविन में ही बैठकर खाना खाया खाना खाने के बाद अवनेश और सत्यवीर दोनों ट्रक से नीचे उतरकर चाय वाले की दुकान पर चले गये।

9- जयपाल और पूजा ट्रक में ही थे उसके बाद पूजा ने खर्चे के लिये पांच हजार रुप जयपाल ने कहा कि अभी उसके पास इतने पैसे नहीं हैं। इस बात पर पूजा ने जया हुए कहा कि तू इधर उधर पैसा बर्बाद का1 of 3 और गाँव में तेरी भाभी से भी ते हैं। नशे में होने के कारण जयपाल को बेइज्जती होने के कारण गुस्सा आ गया।

10- जयपाल ने अवनेश और सत्यवीर को गाड़ी के पास बुलाकर पूजा की हत्या की योजना बनायी और समय करीब 8-9 बजे रात को ट्रक को कडेक्टर को चलाने को दे दिया। करीब 100 मीटर चलने के बाद ट्रक की कंदिन में बैठी पूजा को योजना के अनुसार चलती गाडी में जयपाल ने अपने दोनों पैर से पूजा के हाथों को दबाते अपने दोनों हाथों से पूजा का गला दबाया।

11- जब पूजा ने पैर इधर उधर फेंके तब दूसरे ड्राइवर अवनेश कुमार ने पूजा के दोनों पैर पकड़ लिए। जयपाल ने पूजा का तब तक गला दबाये रखा जबतक कि वह मर नही गयी। जब जयपाल को यकीन हो गया कि पूजा मर गयी है तब उसने गाड़ी रुकवायी और अवनेश से गाड़ी चलाने को कहा। उसके बाद अवनेश ने गाड़ी चलायी तथा करीब 3-4 किमी आगे चलकर चौथा मील से पहले वाले पुल पर ट्रक रोक कर कन्डेक्टर सत्यवीर व दूसरे ड्राइवर अपनेश कुमार को नीचे उतार कर खिड़की से पूजा की लाश को जयपाल ने खिसका दिया और उन दोनों ने पूजा की लाश को सड़क के किनारे रख दिया।

12- पूजा के फोन को जयपाल ने ले लिया उसकी सिम को तोड़कर रास्ते में फेंक दिया था। जयपाल अपनी सिम को पूजा के मोबाइल में डालकर प्रयोग करता रहा क्योंकि उसका मोबाइल खराब हो गया था। इससे पूर्व वह अपने सहायक परिचालक सत्यवीर के मोबाइल में अपना सिम डालकर प्रयोग कर रहा था।

13- इसके बाद वो लोग हापुड में ट्रक में भरी भुसी को उतार कर नोएडा से फ्रिज लादकर पंजाब राजपुर चले गये और माल खाली करके लुधियाना में ट्रक न० पीबी 10 जीवाई 5461 को मालिक सरदार के यहां खड़ी करके हरियाणा में दूसरी गाडी चलाने लगे। उन्होंने ट्रक में पूजा की हत्या की थी इसलिए उस ट्रक को छोड़ दिया और उसके मालिक को कुछ भी नहीं बताया और यह कहकर गाड़ी छोड़ी थी कि उसका खर्चा नहीं निकल पा रहा है।

14- सत्यवीर व अवनेश अपने घर चले गये थे. उन्हें पुनः संशय हुआ कि पूजा मरी नहीं होगी उसी के सम्बन्ध में जयपाल व अवनेश कुमार व सत्यवीर एटा आये थे सत्यवीर पुलिस के आने से आधा घण्टा पहले बस स्टैण्ड से अपने घर जाने की कह कर चला गया।

 

*गिरफ्तार अभियुक्तों का नामपता-*

1- जयपाल पुत्र नेत्रपाल सिंह निवासी नगरिया लुधइया थाना कायमगंज जिला फर्रुखाबाद।

2- अवनेश कुमार पुत्र जगन्नाथ सिंह निवासी ग्राम रूस्तमपुर थाना कुरावली जिला मैनपुरी।

 

*अभियुक्त अवनेश का आपराधिक इतिहास-*

1- मुअस – 283 /18 धारा 302 भादवि थाना कुरावली मैनपुरी।

 

*बरामदगी-*

1- मृतका का मोबाइल फोन

 

*प्रकाश में आए अभियुक्त का नामपता-*

1- सत्यवीर पुत्र कृपाराम निवासी ग्राम कल्याणपुर थाना कुरावली जनपद मैनपुरी।

 

*गिरफ्तार करने वाली टीम-*

1- प्रभारी निरीक्षक जगदीशचन्द्र सिंह

2- निरीक्षक अपराध श्री बाबूलाल अहिरवार

3- उ०नि० अनुज कुमार चौहान

4- है०का० लोकेन्द्र सिंह

5- का० गिरीश कुमार यादव

6- का० अभिषेक कुमार

7- का० पवन कुमार शर्मा (सर्विलांश सैल)

8- आरक्षी चालक कान्ती शर्मा*प्रेसनोट*

*सराहनीय कार्य जनपद एटा।*

 

*एटा- थाना कोतवाली देहात पुलिस को मिली सफलता, करीब दो माह पूर्व जीटी रोड हाईवे छितौनी पुल पर महिला की हत्या कर शव फकने की घटना का सफल अनावरण, 02 अभियुक्त गिरफ्तार, अवैध संबंधों के चलते की गई थी महिला की हत्या।*

 

*घटना-* दिनांक- 28.01.2022 को थाना कोतवाली देहात पर सूचना मिली कि छितौनी वाईपास पुल के ऊपर एक अज्ञात अधेड़ महिला की हत्या कर शव को डाल दिया गया है, इस सूचना पर स्थानीय पुलिस द्वारा तत्काल मौके पर पहुँच शव का पोस्टमार्टम कराते हुए शव की शिनाख्त हेतु प्रचार प्रसार किया गया था. जिससे मृतका की पहचान पूजा उर्फ मीना उर्फ बबीता उर्फ सुमन पुत्री साधूसिंह निवासी ग्राम निनावली थाना ऐका जिला फिरोजाबाद के रूप में हुई। इस संबंध में ग्राम प्रधान छितौनी द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर थाना कोतवाली देहात पर मुअसं – 34 / 2022 धारा 302 भादंवि बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया।

 

*अनावरण तथा गिरफ्तारी-* दिनांक 02-04-2022 को थाना कोतवाली देहात पुलिस तथा जनपदीय स्वाट टीम द्वारा उपरोक्त घटना में वांछित चल रहे दो अभियुक्त जयपाल पुत्र नेत्रपाल सिंह निवासी नगरिया लुधइया थाना कायमगंज जिला फर्रुखाबाद व अवनेश कुमार पुत्र जगन्नाथ सिंह निवासी ग्राम रूस्तमपुर थाना कुरावली जिला मैनपुरी को मुखबिर की सूचना पर हनुमान ट्रांसपोर्ट के पास रेलवे रोड से समय करीब 17.00 बजे गिरफ्तार किया गया है तथा प्रकाश में आए अभियुक्त सत्यवीर की गिरफ्तारी हेतु सार्थक प्रयास किए जा रहे हैं।

 

*मुख्य बिंदु-*

1- मार्च 2021 में अभियुक्त जयपाल के फोन पर अचानक पूजा नाम की लडकी का फोन आया था। जिससे फोन पर पर बातचीत होने लगी ते उसने अपना नाम पूजा निवासी सुनहरी नगर शिकोहाबाद रोड एटा पर रहना बताया।

2- मार्च 2021 में ही जयपाल उपरोक्त ट्रक लेकर एटा आया और जवाहरलाल नेहरु डिग्री कॉलेज के सामने पूजा से मुलाकत की बातचीत करने पर पूजा ने बताया कि उसका कोई नहीं है और वह अस्पताल में नौकरी करती है तथा जयपाल से उसकी शादी होने के बारे में पूछा तो जयपाल ने शादी न होना बताया।

3- इसके बाद पूजा और जयपाल ने एक दूसरे को पति पत्नी के रूप में स्वीकार कर लिया। जिसके बाद पूजा दो माह तक जयपाल के गांव नगरिया लुधइया में उसके घर पर रही। 4- जयपाल ट्रक पर नौकरी करता रहा और घर भी आता जाता रहा इसी बीच पूजा और लोगों से फोन पर बातचीत करती थी जब जयपाल को उस पर शक हुआ तो जयपाल ने उसको कई बार मना किया किन्तु वह नहीं मानी।

5- जयपाल बिहार से भुसी का ट्रक लोड करके चला तो जयपाल के पास पूजा का फोन आया कि उसको एटा में किराये के मकान का किराया देना है जिसके लिए उसे 5000 रूपये की जरूरत है।

6- जयपाल दिनांक 27-01-2022 को समय करीब 4:00 बजे अपने सहायक परिचालक सत्यवीर के साथ कुरावली के पास पहुंचा, क्योंकि उससे पहले अवनेश यादव उपरोक्त का फोन आया था कि उसके पास गाडी नही है उसको गाडी दिलवा दे तो जयपाल ने बताया कि वह दिनांक 27.01. 2022 को कुरावली पहुंच जाएगा और वहां से साथ में पंजाब जाकर गाडी दिलवा देगा। अवनेश भी कुरावली से जयपाल के साथ ट्रक में बैठ गया और रास्ते में उन्होंने कुछ शराब के पऊआ खरीदे और तीनों ने शराब पी और करीब 4-5 बजे उन्होंने सैंथरी (मलावन) से पहले बने कॉलेज के पास चाय की दुकान पर गाड़ी रोक कर पूजा को वहां बुलाया और उन्होंने फिर से शराब पी।

8- समय करीब 6.00 बजे पूजा टेम्पो से वहाँ आ गयी और वह खाना भी बनाकर लायी थी जो तीनों लोगो ने ट्रक की केविन में ही बैठकर खाना खाया खाना खाने के बाद अवनेश और सत्यवीर दोनों ट्रक से नीचे उतरकर चाय वाले की दुकान पर चले गये।

9- जयपाल और पूजा ट्रक में ही थे उसके बाद पूजा ने खर्चे के लिये पांच हजार रुप जयपाल ने कहा कि अभी उसके पास इतने पैसे नहीं हैं। इस बात पर पूजा ने जया हुए कहा कि तू इधर उधर पैसा बर्बाद का1 of 3 और गाँव में तेरी भाभी से भी ते हैं। नशे में होने के कारण जयपाल को बेइज्जती होने के कारण गुस्सा आ गया।

10- जयपाल ने अवनेश और सत्यवीर को गाड़ी के पास बुलाकर पूजा की हत्या की योजना बनायी और समय करीब 8-9 बजे रात को ट्रक को कडेक्टर को चलाने को दे दिया। करीब 100 मीटर चलने के बाद ट्रक की कंदिन में बैठी पूजा को योजना के अनुसार चलती गाडी में जयपाल ने अपने दोनों पैर से पूजा के हाथों को दबाते अपने दोनों हाथों से पूजा का गला दबाया।

11- जब पूजा ने पैर इधर उधर फेंके तब दूसरे ड्राइवर अवनेश कुमार ने पूजा के दोनों पैर पकड़ लिए। जयपाल ने पूजा का तब तक गला दबाये रखा जबतक कि वह मर नही गयी। जब जयपाल को यकीन हो गया कि पूजा मर गयी है तब उसने गाड़ी रुकवायी और अवनेश से गाड़ी चलाने को कहा। उसके बाद अवनेश ने गाड़ी चलायी तथा करीब 3-4 किमी आगे चलकर चौथा मील से पहले वाले पुल पर ट्रक रोक कर कन्डेक्टर सत्यवीर व दूसरे ड्राइवर अपनेश कुमार को नीचे उतार कर खिड़की से पूजा की लाश को जयपाल ने खिसका दिया और उन दोनों ने पूजा की लाश को सड़क के किनारे रख दिया।

12- पूजा के फोन को जयपाल ने ले लिया उसकी सिम को तोड़कर रास्ते में फेंक दिया था। जयपाल अपनी सिम को पूजा के मोबाइल में डालकर प्रयोग करता रहा क्योंकि उसका मोबाइल खराब हो गया था। इससे पूर्व वह अपने सहायक परिचालक सत्यवीर के मोबाइल में अपना सिम डालकर प्रयोग कर रहा था।

13- इसके बाद वो लोग हापुड में ट्रक में भरी भुसी को उतार कर नोएडा से फ्रिज लादकर पंजाब राजपुर चले गये और माल खाली करके लुधियाना में ट्रक न० पीबी 10 जीवाई 5461 को मालिक सरदार के यहां खड़ी करके हरियाणा में दूसरी गाडी चलाने लगे। उन्होंने ट्रक में पूजा की हत्या की थी इसलिए उस ट्रक को छोड़ दिया और उसके मालिक को कुछ भी नहीं बताया और यह कहकर गाड़ी छोड़ी थी कि उसका खर्चा नहीं निकल पा रहा है।

14- सत्यवीर व अवनेश अपने घर चले गये थे. उन्हें पुनः संशय हुआ कि पूजा मरी नहीं होगी उसी के सम्बन्ध में जयपाल व अवनेश कुमार व सत्यवीर एटा आये थे सत्यवीर पुलिस के आने से आधा घण्टा पहले बस स्टैण्ड से अपने घर जाने की कह कर चला गया।

 

*गिरफ्तार अभियुक्तों का नामपता-*

1- जयपाल पुत्र नेत्रपाल सिंह निवासी नगरिया लुधइया थाना कायमगंज जिला फर्रुखाबाद।

2- अवनेश कुमार पुत्र जगन्नाथ सिंह निवासी ग्राम रूस्तमपुर थाना कुरावली जिला मैनपुरी।

 

*अभियुक्त अवनेश का आपराधिक इतिहास-*

1- मुअस – 283 /18 धारा 302 भादवि थाना कुरावली मैनपुरी।

 

*बरामदगी-*

1- मृतका का मोबाइल फोन

 

*प्रकाश में आए अभियुक्त का नामपता-*

1- सत्यवीर पुत्र कृपाराम निवासी ग्राम कल्याणपुर थाना कुरावली जनपद मैनपुरी।

 

*गिरफ्तार करने वाली टीम-*

1- प्रभारी निरीक्षक जगदीशचन्द्र सिंह

2- निरीक्षक अपराध श्री बाबूलाल अहिरवार

3- उ०नि० अनुज कुमार चौहान

4- है०का० लोकेन्द्र सिंह

5- का० गिरीश कुमार यादव

6- का० अभिषेक कुमार

7- का० पवन कुमार शर्मा (सर्विलांश सैल)

8- आरक्षी चालक कान्ती शर्मा

विज्ञापन 3

LIVE FM