Sun. Oct 2nd, 2022

News India19

Latest Online Breaking News

यह देखिए मेरठ के वार्ड 50 साकेत चौराहे से जेल चुंगी चौराहे तक आप देख सकते हैं

यह देखिए मेरठ के वार्ड 50 साकेत चौराहे से जेल चुंगी चौराहे तक आप देख सकते हैं फुटपाथ बनाया जा रहा है यदि इस फुटपाथ को पीछे लेकर के चौड़ीकरण जो चल रहा है सड़क चौड़ा करने के अभियान में तो एक्सीडेंट होने की संभावनाएं कम हो जाती क्योंकि जेल चुंगी तक एक्सीडेंट इतने होते हैं कि बता नहीं सकते छोटी सड़क होने के कारण इसमें एक्सीडेंट होते हैं अब यह फुटपाथ बन जाएगा तो और भी एक्सीडेंट होने की संभावनाएं बन जाएंगे क्योंकि फुटपाथ जो है सड़क के बिल्कुल किनारे पर है और छोटी सड़क होने के कारण पहले एक्सीडेंट होते गए हैं और अब और इससे ज्यादा एक्सीडेंट हो जाएंगे सरकार के पास पैसा लगाने को तो है लेकिन कॉमन साइंस वाले नहीं तो इंजीनियर है और ना ही  अधिकारी और ना ही पीडब्ल्यूडी अधिकारी नगर निगम के अधिकारी जो इस चीज को समझ सके और चला सके अपनी समझ बस  सबकी समझ तो एक सफाई कर्मचारी के ऊपर आकर खत्म हो जाती है जो कि उनका कोई मां बाप नहीं  होता है कोई भी सरकार बैठे उन्हीं को सताती है और इससे ज्यादा किसी को नहीं सताया जाता इन्हीं की नौकरी खत्म की जा रही है चतुर्थ श्रेणी की क्योंकि यह लोग आगे ना बढ़ जाए अगर यह लोग आगे बढ़ेंगे तो शायद भवि कुछयह देखिए मेरठ के वार्ड 50 साकेत चौराहे से जेल चुंगी चौराहे तक आप देख सकते हैं फुटपाथ बनाया जा रहा है यदि इस फुटपाथ को पीछे लेकर के चौड़ीकरण जो चल रहा है सड़क चौड़ा करने के अभियान में तो एक्सीडेंट होने की संभावनाएं कम हो जाती क्योंकि जेल चुंगी तक एक्सीडेंट इतने होते हैं कि बता नहीं सकते छोटी सड़क होने के कारण इसमें एक्सीडेंट होते हैं अब यह फुटपाथ बन जाएगा तो और भी एक्सीडेंट होने की संभावनाएं बन जाएंगे क्योंकि फुटपाथ जो है सड़क के बिल्कुल किनारे पर है और छोटी सड़क होने के कारण पहले एक्सीडेंट होते गए हैं और अब और इससे ज्यादा एक्सीडेंट हो जाएंगे सरकार के पास पैसा लगाने को तो है लेकिन कॉमन साइंस वाले नहीं तो इंजीनियर है और ना ही अधिकारी और ना ही पीडब्ल्यूडी अधिकारी नगर निगम के अधिकारी जो इस चीज को समझ सके और चला सके अपनी समझ बस सबकी समझ तो एक सफाई कर्मचारी के ऊपर आकर खत्म हो जाती है जो कि उनका कोई मां बाप नहीं होता है कोई भी सरकार बैठे उन्हीं को सताती है और इससे ज्यादा किसी को नहीं सताया जाता इन्हीं की नौकरी खत्म की जा रही है चतुर्थ श्रेणी की क्योंकि यह लोग आगे ना बढ़ जाए अगर यह लोग आगे बढ़ेंगे तो शायद भवि कुछ

विज्ञापन 3

LIVE FM