Tue. Sep 21st, 2021

News India19

Latest Online Breaking News

नशीली खीर पूरी खिलाकर लूटे 26 लोग भर्ती कराये झुग्गी झोपड़ी में रहने वालों के साथ लूटपाट हो सकती है प्लीज अपने में भी यह नहीं सोचती

नशीली खीर-पूड़ी खिलाकर लूटे 26 लोग, भर्ती कराया

आगरा। झुग्गी झोपड़ी में रहने वालों के साथ लूटपाट हो सकती है। पुलिस सपने में भी यह नहीं सोचती। ताजनगरी में मंगलवार को कटघर ईदगाह (रकाबगंज) में झोपड़ी में रहने वाले 26 लोगों को बेहोश करके लूट की वारदात को अंजाम दिया गया। शातिर बदमाश खीर पूड़ी लेकर आए थे। उसे खाने के बाद लोग बेहोश हो गए। बदमाश महिलाओं के जेवरात और नकदी लूटकर ले गए। बेहोशी की हालत में पीड़ितों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस बदमाशों का सुराग लगा रही है। सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं।

कटघर ईदगाह में लोहपीटा समाज के कई परिवार झोपड़ी डालकर रहते हैं। तसले, खुर्पी, फावड़े, हसिया, बांक आदि बनाकर बेचते हैं। शेखर, राजेश, गटुआ और विक्की के परिवार में करीब दो दर्जन लोग हैं।गटुआ की पत्नी पूजा ने पुलिस को बताया कि बाइक पर दो युवक आए थे। बताया कि नई दुकान खोल रहे हैं। इसके लिए तसले, फावड़े, सब्बल आदि सामान चाहिए। उन्हें जानकारी मिली है कि यहां अच्छा और सस्ता सामान मिलता है। सामान की कीमत पूछने के बाद यह बोलकर चले गए कि अभी लौटकर आते हैं। शाम करीब पांच बजे दोनों युवक दोबारा लौटकर आए। बोले कि दुकान खोलने की खुशी में भंडारा करना चाहते हैं। खीर पूड़ी बंटवानी है। महिलाएं उनकी मदद कर दें तो काम आसान हो जाएगा। इसमें कितना खर्चा आएगा। डेरे की महिलाओं ने दोनों युवकों से कहा कि यह काम हलवाई ज्यादा अच्छा कर सकता है। पास ही नानकचंद हलवाई है। वे उससे संपर्क कर लें। दोनों युवकों ने हलवाई को ऑर्डर दिया। खीर पूड़ी बनवाई। रात करीब आठ बजे खीर-पूड़ी लेकर तीसरी बार डेरे पर पहुंचे। चारों झोपड़ियों में रहने वाले करीब 26 लोगों केा खीर पूड़ी खाने के लिए दी। झोपड़ी वालों ने भी प्रसाद समझकर उसे खुशी-खुशी खाया। उनकी दावत हो गई। पूजा, सुनीता और मंजू ने बताया कि खीर-पूड़ी खाने के कुछ देर बाद ही सिर भारी हो गया। उसके बाद क्या हुआ कुछ नहीं पता। होश ही नहीं रहा। इसी दौरान शातिरों ने महिलाओं के जेवरात उतार लिए। डेरे में लोगों के पास जितना भी कैश था बटोर लिया। भाग गए। झोपड़ी वालों को बेहोशी की हालत में देखकर स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी। देर रात पुलिस ने विक्की, संदीप, सपना, रमेश, अर्जुन, करीना, मंजू, पाला, रमेश, नानकचंद समेत करीब एक दर्जन लोगों को जिला अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया। जिनकी हालत कुछ ठीक थी उन्हें झोपड़ी में ही रहने दिया। बुधवार की शाम तक सभी लोगों को ठीक से होश नहीं आया था। सीओ सदर राजीव कुमार ने बताया कि मामला जहरखुरानी का है। सभी पीड़ितों की हालत खतरे से बाहर है। पुलिस बदमाशों का सुराग लगा रही है। जल्द ही बदमाशों के बारे में जानकारी मिल जाएगी। जिस हलवाई से खीर पूड़ी बनवाई थी वह भी बेहोश हो गया था। उसके होश में आने का इंतजार किया जा रहा है। हलवाई ने बदमाशों को करीब से देखा था। उससे उनका हुलिया पूछा जाएगा।

खीर पूड़ी में मिलाई बेहोशी की दवा

पुलिस ने बताया कि बदमाशों ने हलवाई नानकचंद से खीर-पूड़ी बनवाई थी। वहां से खाने का सामान लेने के बाद हलवाई को भी खीर-पूड़ी खाने के लिए दी। हलवाई उसकी बेटी और एक रिश्तेदार ने खीर-पूड़ी खाई थी। वे भी बेहोश हेा गए।

विज्ञापन 3

LIVE FM

You may have missed

1 min read